Saturday, July 15, 2017

यही बात खलती है.


*****************************
हमारे देश  में कितनी विविधता है ,  நமது நாட்டில் எவ்வளவு ஒற்றுமை , எவ்வளவு  வேற்றுமை ,
कितनी एकता है , पता नहीं.  தெரியாது .
फिर भी  देश भक्ति की मात्रा  பிறகும் நாளுக்கு நாள்  தேச பக்தி அதிகரிக்கிறது .
दिन ब दिन बढ़ती ही रहती हैं.
भले  ही विदेशों  का भय, வெளிநாட்டு  அச்சங்கள்
आर्थिक सहायता,   பொருளாதார உதவி ,
आतंकवादी हमला , தீவீரவாதிகள் அச்சம்
राजनैतिक दलों का भ्रष्टाचार, அரசியல் கட்சிகளின்  ஊழல்

पुलिस -न्यायालय-सरकारी காவல் துறை , நீதிமன்றம் , அதிகாரிகளின்
अधिकारियों का  मनमाना மனம்போல் நடத்தல்
इनके  बीच कर्तव्य परायण अधिकारी ,
இவர்களுக்கு இடையில் கடமையாற்றும்  அதிகாரிகள்
देश भक्त युवक ,  நாட்டுமேல் பக்தி கொண்ட  இளைஞர்கள் ,
धन से बढ़कर देश से  செல்வத்தைவிட நாட்டை
अत्यंत प्यार करनेवाले, அதிகமாக  நேசிப்பவர்கள்
निस्वार्थ  लोग -சுயநலமற்ற மக்கள்

एक ईश्वरीय शक्ति--ஒரு  தெய்வீக ஆற்றல்
देशोन्नति  कर रही है, நாட்டை முன்னேற்றிக்கொண்டிருக்கிறது .
कितनी प्रगति , எவ்வளவு  முன்னேற்றம்
जब    मैं बच्चा था,  நான் குழந்தையாய் இருக்கும்போது
तब कितने लोग भूखे थे , எத்தனை பேர் பசியோடு பட்டினியோடு இருந்தனர் .
भिखारी थे ,  பிச்சைக்காரர்கள்  இருந்தனர்.
पुराने कपडे ,=பழைய துணிகள்

पुराने  भात देने पर  பழைய சாதம் கொடுத்தால்
मन    लगाकर काम करनेवाले , மனம் ஈடு பட்டு வேலை செய்பவர்கள்
लेकिन आजकल   बचपन में ஆனால் இன்று
मैंने   कितनी गरीबी , நான்  எத்தனை ஏழைகள் ,எத்தனை படிப்பறிவில்லாதவர்கள்  பார்த்தேன்
कितने अनपढ़ों को  देखता था ,
आजकल एल.के.जी ., के लिए   இன்று எல்.கே.ஜி க்காக
दो लाख से ज्यादा இரண்டு லக்ஷத்திற்கும்  அதிகமாக
खर्च करनेवालों को  சிலவு செய்பவர்களைப்
देखता हूँ .  பார்க்கிறேன் .
कई स्नातक , பல  பட்டதாரிகள் ,

स्नातकोत्तर , முதுகலைப்  பட்டதாரிகள் ,
अभियान्तकों को देखता हूँ , பொறியாளர்களைப்  பார்க்கிறேன் .
सचमुच भारत की उन्नति हो  रही है ;
உண்மையில் பாரதம்  முன்னேறிக்கொண்டிருக்கிறது .
उन्नति हुयी हैं . முன்னேறி இருக்கிறது.
पर राजनीतिज्ञ ,  ஆனால் அரசியல் வாதிகள் ,
जनसंपर्क के साधन-மக்கள் தொடர்பு சாதனங்கள்
देशोन्नती की  खबरें நாட்டு முன்னேற்ற செய்திகள்
कहीं एक कोने में எங்காவது ஒரு மூலையில் .
बलात्कार की खबरे, கற்பழிப்பு செய்திகள்
खून हत्या अवैध सम्बन्ध की खबरें-
கொலை படுகொலை சட்டத்திற்கு எதிரான செய்திகள்
मोटे अक्षरों में  प्रकाशित कर रहे हैं.
பெரிய எழுத்துக்களில்  வெளியிடுகின்றனர்.
ऐसी खबरों को  नियंत्रित करना   जरूरी है.
இப்படிப்பட்ட செய்திகளை கட்டுப்படுத்துவது  அவசியம்.
जिलादेश ने ठीक कार्रवाई ली,
மாவட்ட ஆளுநர்  சரியான நடவடிக்கை  எடுத்தார்
परन्तु उसका तबादला हो गया;
ஆனால்  இடமாற்றமாகிவிட்டது .

यही   बात खलती  है. இந்த செய்தி மனதை  வாட்டுகிறது.










हमारे देश  में कितनी विविधता है ,
कितनी एकता है , पता नहीं.
 फिर भी  देश भक्ति की मात्रा
दिन ब दिन बढ़ती ही रहती हैं.
भले  ही विदेशों  का भय,
आर्थिक सहायता, आतंकवादी हमला ,
राजनैतिक दलों का भ्रष्टाचार, पुलिस -न्यायालय-सरकारी अधिकारियों का  मनमाना
इनके  बीच कर्तव्य परायण अधिकारी ,
 देश भक्त युवक ,
धन से बढ़कर देश से
 अत्यंत प्यार करनेवाले,
निस्वार्थ  लोग  एक ईश्वरीय शक्ति
देशोन्नति  कर  रही है,
कितनी प्रगति ,
जब    मैं   बच्चा था,
तब कितने लोग भूखे थे ,
भिखारी थे , पुराने कपडे , पुराने  भात देने पर
मन    लगाकर  काम करनेवाले ,
लेकिन आजकल   बचपन में
 मैंने   कितनी गरीबी ,
कितने अनपढ़ों को  देखता था ,
आजकल एल.के.जी ., के लिए दो लाख से ज्यादा खर्च करनेवालों को
देखता हूँ . कई स्नातक , स्नातकोत्तर , अभियान्तकों को देखता हूँ ,
सचमुच भारत की उन्नति हो  रही  है ;
उन्नति हुयी हैं .
पर राजनीतिज्ञ , जनसंपर्क के साधन
देशोन्नती की  खबरें  कहीं एक कोने में
 बलात्कार की खबरे, खून हत्या अवैध सम्बन्ध की खबरें
मोटे अक्षरों में  प्रकाशित कर रहे हैं.
ऐसी खबरों को  नियंत्रित करना   जरूरी है.
जिलादेश ने ठीक कार्रवाई ली,
परन्तु उसका तबादला हो गया;
यही   बात  खलती  है.


Post a Comment