Friday, October 23, 2015

तिरुक्कुरल

धर्म
इस संसार में धर्म ही विशेषतम चीज है।
सांसारिक कर्मों में अति हितकारी  धर्म ही है।
अधर्म से बढकर अहितकारी कर्म और कोई नहीं है।

Wednesday, October 21, 2015

जो औरों ने नहीं बतायी;

 सोचो; विचारों; आगे बढो;
क्या सोचना है? क्या करना है ?
वही हमारी परेशानी है;
पल पल में बदलता हैं संसार.
किसी की बुद्धि किसी का ज्ञान ,किसी का आविष्कार
उन्हीं को दोहराने से हम जी रहे है.
हमारा अपना नहीं जग को छोड़ने के लिए
हम अपना सोचकर कुछ प्रकट करते हैं
बाद में पता चलता हैं  वह औरों की देन  है;
किसी की कहानी हमें सुनाने पर लगता है वह उन्हीं का
बाद में पता चलता है वह और किसी महान की है;
सोचते विचारते सब ऐसा ही लगता हैं
पुरानी  बातों का नया आवरण;

हमारा अपना क्या है ?
वही हमें सोचना विचारना है पर ऐसी कोई बात नहीं
जो औरों ने नहीं बतायी;

Tuesday, October 20, 2015

தமிழ் ஹிந்தி கற்க -तमिल -हिंदी सीखिये ---



तमिल -हिंदी सीखिये ---

१. आय = income आमदनी ---वरुमानम् 
வருமானம்.: ஆய்-- ஆமதனி
२. वेतन வேதன்  --सम्बलम्, ऊतियम -salary ஊதியம் 

३. मासिक वेतन -मातऊतियम /मासच सम्बलम्। 
     மாசிக் வேதன் -மாத ஊதியம் /
     மாசச் சம்பளம் 
 ४. कितने रूपये --एव्वळवु  रूपाय 
      கித்னே ருப்யே --எவ்வளவு ரூபாய் 
   ५।  दस  हज़ार --पत्तायिरं। தஸ் ஹஜார் -பத்தாயிரம் 

  ६;सरकारी  काम ?--अरसु  वेलैया ?
சர்காரி காம் --அரசுவேலை 


   ७. गैर सरकारी  काम ---तनियार वेलैया ?
       கைர்  சர்காரி காம் --தனியார் வேலை 

  8. स्थायी  या  अस्थायी ?  --निलैयानता ?तरकालिकमा ?
ஸ்தாஈ  யா அஸ்தாஈ ?
நிலையானதா ? தற்காலிகமா ?

  ९  आपकी योग्यता --तंगल  तकुति ?
ஆப்கீ  யோக்யதா --தங்கள் தகுதி ?
  १० शैक्षणिक --कल्वी ? ஷைக்ஷனிக் --கல்வி 
  ११। तकनिकी --तोलिलनुटपम ?தக்னிக்கி --தொழில் நுட்பம் ?

  १२. आगे बढ़ो --मुन्नेरु   ஆகே படோ -முன்னேறு 










प्राचीन तमिल साहित्य में जीने योग्य ज्ञान की बातें

प्राचीन  तमिल साहित्य में  जीने योग्य ज्ञान की बातें 

अनुपयोगी छे बातें 

धनहीन जीना,
बुद्धिहीनों  का व्यापार,
प्रजा के अप्रिय शासक,
योग्य शिक्षक के बिना सीखी विद्या। 
दुष्चरित  अर्द्धांगिनी। 
बिना अतिथि सत्कार  के  गृह। 

तमिल  मूल
 माडिल्लान  वाळवुं 
मतियिल्लान वाणिकमुम 
नाडिल्लान सेंगोल नडात्तुवातुम 
कूडूम 
गुरु इल्ला वित्तै 
गुणमिल्लाप  पेंडुम 
विरुन्तिलान  वीडुम  विलल। 



Thursday, October 8, 2015

chitrapat geet. tamil se hindi.

सुमन  के  दुश्मन समीर हो तो  खिलने सूरज सहायक  हैं. 

शशी  को आसमान शत्रु हो तो उसको चलने का मार्ग कहाँ ?

पक्षी को पंख वैरी हो तो चलने सहायक  है उसके पैर  . 

रिश्ते के शत्रु दिल हो तो भूमि में जीव -राशि बढ़ने का मार्ग कहाँ ?

नाव के डाँड़ दुश्मन हो तो मस्तूल है सहायता के लिए ;
समुद्र को जल ही दुश्मन हो तो  वहाँ लहरों केलिए स्थान नहीं। 
आँखों  को दृष्टी दुश्मन हो तो 
शब्दों से समझने के लिए मार्ग है; 
स्त्री को पति दुश्मन हो तो 
उस स्त्री के जीवन में रोशनी कैसे ?

Monday, October 5, 2015

तमिल साहित्य

मनष्य जीवन में कुछ सुधार करना है या लाना है तो
कविता या लेख द्वारा ही संभव है।
साहित्य मानव मन में बडा परिवर्तन लाने में
समर्थक है।
एक शब्द या एक लोकोकति में
इतनी शकति है आलसी या सुप्त मन में जोश उत्पन्न
करने में सार्थक और समर्थक होता है।
बरगद और कबूल दाँत को टिकाऊ बनाता है।
आलुम वेलुम पल्लुक्कुरुति

Friday, October 2, 2015

Common words in Hindi and Tamil

भगवान  रक्षा करो ---பகவானே ! ரக்ஷியும் . -

दुर्गा जी  कृपा करो। --துர்க்கை அம்மனே !கிருபை காட்டு .

पुत्रों !प्रार्थना  करो ! மகன்களே !பிரார்த்தனை செய்.

ईश्वर !दया करो। --ஈஸ்வரா !தயை பண்ணு .

पूजा करो। -பூஜை செய் .

विशवास करो।  விசுவாசி 

दान धर्म करो।  -தானதர்மம் செய்.

पुण्य मिलेगा. புண்ணியம் கிடைக்கும் 

पाप से बच जाओगे।  பாவத்திலிருந்து தப்பித்துவிடுவாய் .

भक्त बनो। பக்தனாகிவிடு.

वीर  बनो। 

साहसी बनो। 

उत्साह  से रहो. 

ईश्वर के चरणों को पकड़ो। 


Thursday, October 1, 2015

आत्तिच्चूडी --ஆத்திச் சூடி 1 டு 20.


AATTICHCHOODI  - आत्तिच्चूडी - ஆத்திச் சூடி 

1 to 20



  1. Aram Seya Virumbu  - Dharm Karm Karna Chaah   धर्म  कर्म  करना  चाह !
  2. Aaruvathu Sinam -Krodh Dabaao -क्रोध दबाओ।
  3. Iyalvatu Karavel - Jitna De Saken Den -  जितना  दे सकें दे।
  4. Eevadhu Vilakkel - Daata Ko Mat Rok - दाता  को मत रोक.
  5. Udaiyatu Vilambel - APNEE BAL-DURLABH KO MAT BATA - अपने बल -दुर्बल को दूसरों से मत
  6. Ookkamatu Kaividel  - Utsaah Mat Chod -  उत्साह मत छोड़।
  7. EN ELUTTU IKALEL -- SHIKSHA AUR GANIT  KAA APAMAANIT MAT KAR=शिक्षा और गणित का अपमान मत कर.
  8. ERPATU IKALCHCHI --BHEEKH MAANGNA APAMAANIT KARM HAI.- भीख  माँगना अपमानित कर्म है.
  9. AIYAM ITTU UN ---YAACHAKON KO DEKAR KHAA. याचकों को देकर खा.
  10. OPPURAVU OLUKU --SAANSAARIKTA KE SAATH CHAL. सांसारिकता या  के जग साथ चल
  11. OTHUVATHU OLIYEL --SEEKHNA MAT CHOD.  सीखना मत छोड़।
  12. AVVIYAM PESEL --EERSHYA BHARI BAATEN  MAT BOL , ईर्ष्या भरी बात मत बोल.
  13. AKKAANJ CHURUKKEL --NAAP TOL MEN KAM MAT KAR. (KAM TOLKAR MAT DEN ) नाप तोल में कम  मत कर (काम तोलकर मत व्यापार कर)
  14. KANDONRU SOLLEL --JO DEKHA USE BADALKAR MAT KAH .जो देखा उसे बदलकर मत कह।
  15. (JHOOTH MAT BOL. झूठ मत बोल.
  16.  GNAPPOL VALAI-- NAMRA VYAVAHAR KAR. (IN TAMIL GNA LETTER IS HIGH ,BEND, STRAIGHT AND BEND )  (MAT LAB SAR OONCHAKAR ,JHUK AUR SEEDHE CHAL .(ங LETTER ) तमिल के .(ங अक्षर के सामान ) सर ऊंचा कर झुककर सीधे चल.
  17. SANI NEERAADU --  ROJ SNAAN KAR. SHANI SE BACH. रोज़ स्नान  कर.
  18. GNAYAM PADA URAI ---M ADHUR VACHAN BOL. NAMRTA SE BAAT KAR. मधुर वचन बोल. नम्रता से बात कर.
  19. IDAM PADA VIDEL .==BADA MAKAAN KHAALEE ZAMEEN CHODKAR MAT BANVAANAA .बड़ा मकान खाली जमीन अधिक छोड़ मत बनवाना
  20. INAKKAM ARINTU INANGU --JAAN -PAHCHAANKAR YOGYATA JAAN MITRATA NIBHAA. जान-पहचानकर दोस्ती कर. (योग्यता जानकार मित्रता बनाना.
  21. TANTAI THAAY PEN --MAATA -PITA KEE SEVA KAR.
  22. NANRI MARAVEL --  KRUTAGYATA MAT BHOOL.