Thursday, November 15, 2012

तमिल -हिंदी सीखो ="विधि" वाक्य



तमिल -हिंदी सीखो 
"विधि" वाक्य

नी पो =तुम जाओ==नी पो।     नींगल  पोंगल= आप जाइए।
नी वा=तुम आओ।              नींगल वारुंगल= आप आयिये .
नी वुटकार =तुम बैठो।         नींगल उट्कारुंगल =आप बैठिये।
नी पार=तुम देखो।              नींगल पारुन्गल= आप देखिये।
नी पड़ी=तुम पढो।              नींगल पडियुन्गल।==आप पढ़िए।
नी पाडू==तुम गाओ।           नींगल पाडुंगल =आप गायिए .
नी केल==तुम  सुनो।            नींगल  केलुंगल = आप  सुनिए।।
नी एलुतु =तुम लिखो .         नींगल एलुतुंगल ==आप लिखिए।

नी विलैयाडू =तुम खेलो .     नींगल विलैयाडुंगल। =आप खेलिए।
नी साप्पिडु =तुम खाओ .       नींगल  साप्पिडूंगल =आप खायिये ;
नी काफ़ी कुडि =तुम काफ़ी  पिओ .     नींगल काफ़ी  कुडियुंगल .==आप काफ़ी  पीजिये। 
नी पत्तु   रूपाय कोडु =तुम दस रूपये दो।    नींगल पत्तू  रूपाय कोडुंगल । =आप दस रूपये दीजिये।
बोलचाल की तमिल में   आदर सूचक "विधि" वाक्य में अंतिम  "ल" का उच्चारण नहीं करते।
उदाहरण :--नींग  वांग= लिखित तमिल में  "नींगल वारुंगल ". बोलचाल और लिखित तमिल में ज़रा बड़ा फरक है।
नींग  कुडिंग =आप पीजिये। बोलचाल। नींगल कुडियुंगल =लिखित .=