Thursday, May 1, 2014

chain of four Gems --चार रत्नों की कड़ी --नान मनिक्कडिकै-26-28

एक देश के लोग शासक  पर अवलंबित होकर जियेंगे.

शिशु अपनी माँ के दूध पर अवलंबित होकर जीता है.

जग के सारे जीव  वर्षा की प्रतीक्षा  और वर्षा पर जीवित हैं.
संसार के जीव मृत्यु  का ऐलान  कर जीते हैं.

 the subjects of a people depending towards rulers.

a child depends upon its mothers milk and feeding.
the whole world  creatures live depending and waiting of   rain water.
All living things are living in the proclaim of death.

கோனோக்கி வாழுங் குடிஎல்லாந் தாய் முலைப் 
பானோக்கி வாழுங் குழவிகள் -வானத்
துளினோக்கி  வாழு முலக முலகின்
விளிநோக்கி இன்ப்ரூவுங்  கூற்று.